कोर्स चुनने में हो रही है कंनफ्युजन? कुछ नए कोर्सेज, जिनसे आप लाखों कमा सकते हैं

अब तक आपको समझ नहीं आ रहा है कि किस फिल्ड का चुनाव करें, कुछ नए कोर्सेज, जिनसे आप लाखों कमा सकते हैं, जो आपके भविष्य में सफलता का दरवाजा खोल दे। एक वक्त था, जब आपके पास सीमित विकल्प था। पर आज सब कुछ बदल गया है। आज आपके पास अनगिनत कोर्सेंज है, बच्चें कंनफ्युज हो रहे है। कौन सा फिल्ड चुनें, कैरियर प्लेसमेंट अच्छा होगा, सैलरी कितनी होगी इत्यादि। इन सारे प्रश्नों का उत्तर हम लेकर आए है।

यह खबर आपके काम आ सकता है। कुछ नए कोर्सेज, जिनसे आप लाखों कमा सकते हैं

लग्जरी ब्रांड मैनेजमेंट
यदि आपको चीजों से लगाव है साथ ही सौंदर्यबोध का ज्ञान है, तो लग्जरी ब्रांड मैनेजमेंट से कैरियर की शुरुआत कर सकते है। लंदन स्कूल ऑफ बिजनेस एंड मैनेजमेंट लग्जरी मैनेजमेंट में स्पेशलाइजेशन के साथ एमबीए का कोर्स करा रहा है। इसे फुलटाइम, पार्टटाइम या ऑनलाइन कर भी सकते हैं। रेगुलर स्टुडेंट्स को लग्जरी ब्रांड के लिए मार्केटिंग रणनीतियों और ब्रांड वैल्यू के बीच कैसे संबंध बनाए इसकी जानकारी भी दि जाती है।
इस कोर्स को करने बाद, आप लग्जरी सेल्स एडवाइजर, विजुअल मर्चेडाइजर, लग्जरी इवेंट प्लानर बन सकते हैं। शुरूआत में वेतन प्रति माह 40,000-45,000 रुपये से कमा सकते हैं। बाद में यही कोर्स आपको प्रति माह 5 लाख रु. तक भी दे सकता है।

स्पा थेरेपी-
जयपुर और अहमदाबाद में स्थित ओरिएंट स्पा एकेडमी, स्पा थेरेपी में प्रोफेशनल डिप्लोमा का कोर्स कराती है। इस कोर्स को करने के लिए आप में लोगों को मानसिक और शारीरिक रूप से आराम पहुंचाने कि रुचि हो साथ ही इस में करियर बनाने की इच्छा भी हो। स्टुडेंट्स को स्पा थेरेपी की सभी बुनियादी मसाज के तरीके सिखाए जाते हैं और उन्हें एक पेशेवर स्पा थेरेपिस्ट के तौर पर विकसित किया जाता है। इसके तहत मनुष्य की शरीर की संरचना, शारीरिक क्रिया, आयुर्वेदिक और ओरिएंटल थेरेपियों और एस्थेटिक ट्रीटमेंट जैसे विषयों की पढ़ाई होती है। साथ ही कल्चर और कम्यूनिकेशन की जानकारी दी जाती है, जिससे स्टुडेंट यह सीख सकें कि स्पा में कैसा माहौल होना चाहिए और एक स्पा थेरेपिस्ट के तौर पर उन्हें किस तरह का व्यवहार करना चाहिए।
इस कोर्स को पूरा करने बाद आप किसी स्पा और रेसॉर्ट में थिरेपिस्ट या ऐस्थेटीशियन की नौकरी कर सकते हैं। यदि अप चाहे तो, आपना स्पा भी खोल सकते हैं। इस कोर्स से आप एक से दो लाख रुपये तक सलाना कमा सकते है।

फूड फोटोग्राफी और स्टाइलिंग-
यदि आपको फूड फोटोग्राफी में दिलचस्पी है तो इससे अपना कैरियर की शुरुआत कर सकते हैं। लॉ कॉर्डन ब्लू के फूड फोटोग्राफी और स्टाइलिंग वर्कशॉप लेकर आया है। इसमें आपको खाद्य पदार्थों की फोटोग्राफी के बुनियादी और मुख्य सिद्धांत सिखाए जाएंगे। इस कोर्स में फूड स्टाइलिंग के लिए प्लेट के डिजाइन, सही लाइटिंग और कैमरे की तकनीक के बारे में सभी जरूरी बारीकियां सिखाई जाती हैं।
इससे करने के बाद, आप लग्जरी और फूड पत्रिकाओं में काम कर सकते है। रेस्तरां, हॉस्पिटेलिटी कंसल्टेंट और फूड ब्लॉगिंग जैसी फील्ड से भी पहचान बना सकते हैं। इस कोर्स से आप 550 पाउंड कमा सकते है।

पॉलिटिकल कम्युनिकेशंस-
राजनीति में चुनाव प्रचार के तरीकों से ही कोई भी पार्टी अपना प्रचार करती है। राजनैतिक पार्टियां चुनाव के दौरान और उसके बाद भी अपने संपर्क विभाग की मदद के लिए पॉलिटिकल कम्युनिकेशंस की सेवाएं लेने लगी हैं। गुडग़ांव स्थित द इंडियन स्कूल ऑफ कम्यूनिकेशंस एंड रेपुटेशन इन दिनों पॉलिटिकल कम्यूनिकेशंस में पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्स करा रहा है। इस कोर्स के तहत मैनेजिंग पॉलिटिकल सेंसटिविटीज, ऐज ऑफ सोशल इलेक्शंस और इवोल्युशन ऑफ पॉलिटिकल कम्यूनिकेशंस जैसे विषय पढ़ाए जाते हैं। इन सभी विषयों में वर्तमान भारतीय राजनैतिक व्यवस्था पर विशेष जोर दिया जाता है।
स्टूडेंट कोर्स करने के बाद राजनैतिक कार्यालयों में कम्यूनिकेशन मैनेजर की नौकरी पा सकते हैं या कम्यूनिकेशन कंसल्टेंसी एजेंसियों में काम कर सकते हैं। इससे आप साल में 3.5 लाख से 4 लाख रुपये सालाना कमा सकते हैं।

टी टेस्टिंग-
आपकी मनपसंद चाय का स्वाद बढ़ाने के लिए चाय की पत्ती बनाने वाली कंपनियां लंबे समय से पेशेवर टी टेस्टरों की सेवाएं लेती आ रही हैं। टी टेस्टर चाय की पत्ती के स्वाद, उसकी क्वालिटी और तैयारी को जांचने के लिए पेशेवरों को नौकरी पर रखती हैं। बेंगलुरू के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ प्लांटेशन मैनेजमेंट अपने सर्टिफिकेट प्रोग्राम के तहत चाय के बिजनेस मैनेजमेंट, मार्केट इन्फॉर्मेशन, टी टेस्टिंग की तकनीक और उसके तरीकों के बारे में अध्ययन कराता है। यह कोर्स टी बोर्ड ऑफ इंडिया और वाणिज्य मंत्रालय के सहयोग से कराया जाता है। इंस्टीट्यूट में टी टेस्टिंग की आधुनिक प्रयोगशाला मौजूद है, साथ ही राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय टी टेस्टिंग यूनिट के विशेषज्ञ स्टुडेंट्स को टी टेस्टिंग की तकनीक के बारे में शिक्षा देते हैं। स्टुडेंट्स को चाय को लेकर बाजार की जानकारी, मौकों और उसकी खपत के बारे में विस्तार से पढ़ाया जाता है।
इस कोर्स को करने वाले ग्रेजुएट भारतीय और अंतरराष्ट्रीय चाय कंपनियों के अलावा चाय के खरीदारों के यहां भी नौकरियां पा सकते हैं। बेवरेज कंपनियां और चाय के बागान भी अच्छी नौकरी देती हैं। शुरुआती वेतन सालाना 3 लाख रु. से 5 लाख रु. तक हो सकता है.

फुटबॉल इंडस्ट्रीज में एमबीए-
यूनिवर्सिटी ऑफ लीवरपूल विश्व में एकमात्र यूनिवर्सिटी है जो फुटबॉल इंडस्ट्रीज में एमबीए की डिग्री देती है। इस कोर्स का लक्ष्य स्टुडेंट्स को आधुनिक स्पोर्ट्स इंडस्ट्री में मैनेजमेंट की नौकरी के लिए जरूरी योग्यता उपलब्ध कराना है। इस कोर्स के तहत प्रैक्टिकल वोकेशनल ट्रेनिंग भी दी जाती है, जिससे स्टुडेंट्स में कम्युनिकेशन और लीडरशिप की योग्यता विकसित होती है ताकि वे पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा लोकप्रिय फुटबॉल के खेल में मैनेजर के तौर पर अपना करियर बना सकें। लीवरपूल उत्तर-पश्चिम इंग्लैंड में फुटबॉल की गतिविधियों का केंद्र है, जिस वजह से इस कोर्स के स्टुडेंट्स को इंग्लिश फुटबॉल क्लबों से संपर्क बनाने का मौका मिल जाता है। यह यूनिवर्सिटी यूनियन ऑफ यूरोपियन फुटबॉल एसोसिएशनों और कई सारे फुटबॉल क्लबों जैसे संगठनों के साथ कार्य-आधारित प्रोजेक्ट करती है। यहां कोर्स के दौरान इन संस्थानों से अतिथि वक्ता आते हैं और स्टुडेंट्स को अपने अनुभवों और जानकारियों से रू-ब-रू कराते हैं।
इस कोर्स से आप फुटबॉल क्लबों और विभिन्न लीग में मैनेजर की नौकरी पा सकते हैं और अपने ज्ञान को फुटबॉल के मैदान में लागू कर सकते हैं। सालाना 20,000-25000 पौंड तक कमा सकते है।

इस तरह के अन्य कोर्स के बारे में जांने के लिए, मापागुरु कोचिंग वेब्सायट में देखें

Leave a comment